Meta description kya hota hai | Meta description को कैसे लिखते हैं?

अगर आप भी एक ब्लॉगर है और आप की वेबसाइट google के सर्च रिजल्ट में शो नही हो रहा है, तो इस का एक सबसे बड़ा कारण Meta description भी हो सकता है, हो सकता है की आप को Meta description kya hota hai नही पता हो या आप को Meta description को कैसे लिखते हैं ये भी नही पता होगा, तो इस पोस्ट में हम आप को बताने वाले है की Meta description क्या होता है तो आप Meta description को कैसे लिख सकते है जिस से आप को वेबसाइट पर जो भी आर्टिकल पब्लिश है, वो google के सर्च रिजल्ट में शो हो और आप के वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक आ सके |

Meta description क्या होता है?

जब भी हम कोई बड़ा आर्टिकल लिखते है और उस आर्टिकल को संक्षिप्त रूप में विश्लेषण करना हो तो उस को Meta description कहते है, जब भी आप कुछ google पर सर्च करते है, तो उस सर्च रिजल्ट में जो भी आर्टिकल आते है, उस आर्टिकल के नीचे एक छोटा सा  पैराग्राफ दिखेगा और उस में कुछ लिखा होता है, उसी को Meta description कहते है|

Meta description में यूजर को आर्टिकल का संक्षिप्त रूप या आर्टिकल में क्या होने वाला है उस का एक छोटा सा जानकारी मिल जाता है, ताकि जो यूजर सर्च कर रहा है उस को पहले ही पता चल जाये की उस को इस आर्टिकल में जानकारी मिल जायेगा और वो बार – बार हर एक वेबसाइट के आर्टिकल को खोल के न पढ़े | Meta description होने से यूजर का एक्सपीरियंस भी अच्छा रहेगा और उस का कीमती समय भी बचेगा और google सर्च रिजल्मेंट में वेबसाइट भी शो होने लगेगी |

Meta description कैसे लिखा जाता हैं?

जैसा की हम ने आप को बताया है की आर्टिकल का संक्षिप्त रूप विश्लेषण करना Meta description कहलाता है और अब हम आप को बताने वाले है की आप कैसे Meta description लिख सकते है, जिस से आप के वेबसाइट में जो आर्टिकल पब्लिश है, वो google के सर्च रिजल्ट में आने लगे |

Meta description लिखने के लिए आप को इन बातो का ध्यान रखन है और आप एक अच्छा Meta description कैसे लिखते है ये सिख जायेंगे —

  • सबसे पहले जब भी आप Meta description लिखे तो आप इस प्रकार लिखे की जो यूजर उस को पढ़े तो उस को ये समझ में आ जाये की इस आर्टिकल में क्या होने वाला है और यूजर को जो जानकारी चाहिए वो आप के आर्टिकल में है |
  • Meta description लिखेते समय ये भी ध्यान दे की सिर्फ वही शब्द लिखे जो जिस के बारे में आर्टिकल है, इस से आप के आर्टिकल कका सर्च में आने का जादा संभावना हो जायेगा क्यूंकि की जो google के bot है उनको सही से पता चल जायेगा की इस आर्टिकल में क्या है और वो आप के आर्टिकल को सर्च रिजल्ट में शो कर देंगे |
  • Meta description जितना काम शब्द का हो सके उतना कम रखे, Meta description को सिर्फ 160 characters में ही रखे इस से जादा न करे |
  • Meta description सिर्फ वही लिखे जो आप के आर्टिकल में लिखा हुआ है, नही तो यूजर आप के आर्टिकल को जब पढ़ने के लिए खोलेगा तो उस में कुछ और जानकारी मिलेगा, जिस से वो आप के वेबसाइट को बंद कर के दूसरी वेबसाइट पर चला जायेगा और आप के वेबसाइट का जो बाउंस रेट है वो बढ़ जायेगा और आप के वेबसाइट की रैंकिंग काम हो जाएगी |

Meta description क्यों लिखना चाहिए?

अब आप ये भी जान ले की ये Meta description इनता जरुरी क्यों है, अगर आप का Meta description बिलकुल सही तो इस से आप के वेबसाइट क google आशानी से रैंक कर देगा, जिस से आप के वेबसाइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक आने लगेगा और आप की वेबसाइट ग्रो करेगी और अगर यूजर के नजरिये से देखे तो जब भी उस को कोई जानकारी चाहिए तो वो उस को google पर ही सर्च करेगा और अगर आर्टिकल में Meta description सही होगा तो उस को पहले ही पता चल जायेगा की इस वेबसाइट का जो आर्टिकल है उस में जो जानकरी वो सर्च कर रहा है मिल जायेगा और वो बाकि किसी दूसरी वेबसाइट को ओपन नही करगे और उस का टाइम भी बच जायेगा |

निष्कर्ष

तो इस आर्टिकल में हम ने आप को बता दिया की ये Meta description क्या होता है? और आप कैसे इस को लिख सकते है, जिस से आप की वेबसाइट भी google के सर्च रिजल्ट में शो हो सके | आप को ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप कमेंट कर के हमें बता सकते है और अपने ब्लॉगर दोस्तों के साथ इस पोस्ट को शेयर भी कर सकते है|

अन्य पोस्ट भी पढ़े —

प्लेगरिज्म क्या है | What is plagiarism in Hindi 2022

Leave a Comment